हिमाचल में संदिग्ध परिस्थितियों में मां-बेटी की मौत, प्राथमिक जांच

318
हिमाचल में संदिग्ध परिस्थितियों में मां-बेटी की मौत, प्राथमिक जांच

 हिमाचल प्रदेश के ऊना हरोली क्षेत्र के अंतर्गत गांव बाथू में संदिग्ध परिस्थितियों में मां-बेटी की मौत हो गई।  मिली जानकारी  से पता चला है कि  एक परिवार अपने बेटे के पास अन्य राज्य से मिलने आया था। बेटा औद्योगिक क्षेत्र बेला बाथड़ी के एक उद्योग में काम करता है और बाथू में किराए के घर में रहता है। घर में कोई घरेलू कलह भी नहीं हुई जबकि जहर से मां-बेटी की मौत हुई है। 

शुक्रवार  रात पूरे परिवार ने इकट्ठे खाना खाया और देर रात मां-बेटी की तबीयत खराब हो गई। बेटी ने घर में ही उल्टियां करने के बाद दम तोड़ दिया और मां को इलाज के लिए ऊना अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डाॅक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतकों की पहचान श्रुति (13) पुत्री मोहन मैहतो और सरस्वती (55) पत्नी मोहन मैहतो निवासी मोहल्ला चारमुनार, पटना बिहार के रूप में हुई है। 

जब खाना सबने एक साथ खाया तो अन्य पारिवारिक सदस्यों की तबीयत क्यों खराब नहीं हुई। बाथू में संदिग्ध परिस्थितियों में मां-बेटी की हुई मौत को लेकर पुलिस द्वारा जांच की जा रही है। पुलिस द्वारा दोनों के शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है। डीएसपी हरोली अनिल पटियाल ने कहा कि डाॅक्टरों की प्राथमिक जांच में मौत जहर से हुई पाई गई है। सही मायने में मौत कैसे हुई, इसका खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही होगा।