विवाहिता की संदिग्ध मौत पर हंगामा, पुलिस पहरे में अंतिम संस्कार

233
विवाहिता की संदिग्ध मौत पर हंगामा, पुलिस पहरे में अंतिम संस्कार

Kangra: लंज के साथ लगती पंचायत धार में एक विवाहिता की संदिग्ध हालात में जलने से हुई मौत पर मायका पक्ष ने उसके ससुराल में जमकर हंगामा किया। मायका पक्ष का आरोप है कि उनकी बेटी आत्महत्या नहीं कर सकती है। माहौल बिगडऩे की आशंका के चलते बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात रहा। बाद में पुलिस की मौजूदगी में महिला का अंतिम संस्कार कर दिया गया। 

रात को रजिता उर्फ रोजी की अपने पति मुनीष के साथ किसी बात को लेकर बहस हुई थी। परिजन बीच-बचाव करते हुए मुनीष को ग्राऊंड फ्लोर में ले आए और रजिता ऊपरी मंजिल पर चली गई। थोड़ी देर बाद रजिता के चिल्लाने की आवाज सुनकर और ऊपरी मंजिल से धुआं उठता देख उसका पति मुनीष और ससुराल के अन्य लोग ऊपरी मंजिल पर गए। वहां देखा तो रजिता आग से झुलस चुकी थी। 

महिला को उपचार के लिए टांडा ले जाया गया, जहां पर डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। आग बुझाने की कोशिश के दौरान रजिता का पति भी झुलस गया, जिसका उपचार हरिपुर अस्पताल में करवाया गया। पुलिस को कमरे से मिट्टी के तेल का बर्तन भी मिला है। वहीं, इस दौरान मायका पक्ष और ससुराल पक्ष में जबरदस्त बहसबाजी हुई। रजिता का अंतिम संस्कार करने तक पति को बाहर नहीं निकाला गया। रजिता के शव को पोस्टमार्टम के बाद जब घर लाया गया तो ससुराल वालों ने शव को अंदर नहीं ले जाने दिया। 

इस पर लोगों ने गहरा रोष जताया। रजिता अपने पीछे 5 माह की लड़की छोड़ गई है। डीएसपी देहरा चंद्रपाल सिंह ने बताया कि प्रारंभिक जांच में बहसबाजी के बाद महिला द्वारा खुद को आग लगाने की बात सामने आई है। फोरैंसिक टीम ने मौके पर साक्ष्य जुटाए हैं। मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है। फोरैंसिक और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद आगामी कार्रवाई की जाएगी।